राजस्थान के कांग्रेस MLA ने कहा – अरे हटाओ अब गहलोत को, कौन उसे वोट देगा, उसका अब प्रभाव नहीं रहा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने JNU में जाकर देश के टुकड़े टुकड़े होने के नारे लगाने वाले गद्दारों का समर्थन किया था, अब कांग्रेस 23 मई के लोकसभा चुनाव नतीजे के बाद टुकड़े टुकड़े हो जाने की स्तिथि में पहुँच गयी है

कांग्रेस का हर राज्य में ये ही हाल है, पंजाब में अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच 36 का आंकड़ा हो चूका है, कर्णाटक में हाल बुरा है, मध्य प्रदेश में कमलनाथ से विधायक नाराज है, और राजस्थान में तो अब कांग्रेस के विधायक खुलकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ मोर्चा खोल रहे है

आज कांग्रेस विधायक पृथ्वीराज मीणा ने खुलर अशोक गहलोत का विरोध किया और मांग करी की तुरंत अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री के पद से हटाया जाये, उन्होंने कांग्रेस का बंटाधार कर दिया

पृथ्वीराज मीना ने कहा की राजस्थान में कोई भी अशोक गहलोत के रहते कांग्रेस को वोट नहीं देगा, तुरंत अशोक गहलोत को हटाकर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाया जाये

पृथ्वीराज मीणा ने कहा की – राजस्थान में इस बार विधानसभा चुनावों में जीत सचिन पायलट ने दिलाई थी, लोग युवा मुख्यमंत्री चाहते है, अशोक गहलोत का अब कोई प्रभाव नहीं रहा, अशोक गहलोत के चलते जाट नाराज है, गुर्जर नाराज है, कौन वोट देगा कांग्रेस को, जल्द से जल्द अशोक गहलोत को हटाया जाए

देखिये किस तरह कांग्रेस विधायक ने मुख्यमंत्री का विरोध किया

आपकी जानकारी के लिए बता दें की इन दिनों अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच 36 का आंकड़ा बन चूका है, और सचिन पायलट के करीबी विधायक अब खुलकर अशोक गहलोत के खिलाफ मोर्चा खोल रहे है

लोकसभा चुनावों में 25 में से 25 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की है, जबकि 6 महीने पहले ही राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी थी, स्वयं अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत इस बार जोधपुर से लोकसभा का चुनाव बुरी तरह हारे है, और उसका ठीकरा अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर फोड़ा था