चिदंबरम के बाद CBI लग सकती है ममता बनर्जी के पीछे! मोदी से मुलाकात करने के लिए ममता ने मांगा समय।

पश्चिम बंगाल में सीबीआई सक्रिय है। सीबीआई अधिकारी, ममता के करीबी (विरोधियों का दावा) जाने वाले राजीव कुमार से पूछताछ करने की कोशिश कर रहे हैं। बता दें कि यह राजीव कुमार हैं जिनके लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी धरना में बैठी थीं। सीबीआई के काम को रोकने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कई आलोचनाओं का सामना करना पड़ा, लेकिन वह फिर भी पीछे नहीं हटीं। लेकिन अब पश्चिम बंगाल में सीबीआई एक बार फिर सक्रिय है। अब ममता बनर्जी धरना में नहीं बैठती हैं।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री मोदी से मिलने के लिए मंगलवार को दिल्ली जा रही हैं। मोदी बुधवार दोपहर को साढ़े चार बाज कर आमने-सामने होंगे। यह राजनीतिक कल्पना शुरू हो गई है। हालांकि, ममता बनर्जी प्रधान मंत्री मोदी के साथ प्रशासनिक वार्ता के लिए दिल्ली जाना चाहती हैं। लेकिन कई लोगों ने इसे सीबीआई सक्रियता के संदर्भ से जोड़ दिया। सोशल मीडिया पर अलग-अलग प्रतिक्रिया आने लगी है। बोलने की अधिकार सबके पास है ,इस लिए सोशल मीडिया पर कई लोग मोदी के साथ ममता के बैठने को सीबीआई में सक्रिय रूप से जोड़ दिया।

मोदी सरकार के दूसरे दफा में अमित शाह को गृह मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। तब से, भ्रष्टाचार पर बहुत काम किया गया है। इस बीच, पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम तिहाड़ जेल में बंद हैं। अब राहुल गांधी, सोनिया गांधी बेल के साथ जेल से बाहर हैं। इसलिए यह जानना मुश्किल है कि अब किसकी बारी है। इस बीच, ममता बनर्जी दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी से मिलना चाहती हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से राज्य में विकास कार्यक्रमों पर चर्चा की उम्मीद है।