हिन्दू डॉक्टर के इलाज से खुजली सही नहीं हुई तो रफ़ीक ने डाक्टर की बीवी बच्चे को चाकू से काट डाला

इंदौर में एक हिन्दू डॉक्टर की पत्नी और उसके बेटे को रफीक रशीद नाम के मुस्लिम शख्स ने चाकू से काट डाला है, रफीक द्वारा किये गए हमले में डाक्टर की पत्नी की मौत हो चुकी है जबकि डाक्टर का बेटा जिंदगी और मौत से जूझ रहा है

मामला मध्य प्रदेश के इंदौर का है जहाँ पर रफीक रशीद नाम के एक मुस्लिम शख्स को शरीर में खुजली हो रही थी, वो इलाज के लिए डाक्टर रामकृष्ण वर्मा के क्लिनिक में पहुंचा जो अपने घर पर ही अपना क्लिनिक चलाते थे

डाक्टर ने उसे दवाई दी, पर दवाई से रफीक रशीद की खुजली ठीक नहीं हुई, इसपर रफीक काफी गुस्सा हो गया और इंदौर के मालवा हिल्स इलाके में 5 जून को रफीक डाक्टर रामकृष्ण वर्मा के घर पर पहुंचा

डाक्टर रामकृष्ण वर्मा की पत्नी लता और उनका बेटा घर पर थे, रफीक ने घंटी बजाई तो लता जिनकी उम्र 50 साल की थी उन्होंने दरवाजा खोला, रफीक ने गाली गलोज शुरू कर दी और कहा की डाक्टर कहाँ पर है, फिर लता ने कहा की डाक्टर रामकृष्ण यहाँ नहीं है वो अपने किसी कार्य से दिल्ली गए है

फिर इतने में रफीक ने चाक़ू निकाला और लता को चाकुओं से गोदना शुरू कर दिया, लता ने शोर मचाया तो उनका 19 साल का बेटा अखिलेश उनको बचाने के लिए दौड़ा तो रफीक रशीद ने उसे भी चाकुओं से गोद डाला

लता और अखिलेश को रफीक ने चाकुओं से कई जगह काटा और गोदा, दोनों को मरा समझकर रफीक रशीद वहां से भाग गया, पर भागते हुए रफीक को किसी तरह अन्य लोगो ने पकड़ा लिया और पुलिस के हवाले कर दिया, लोकल लोगो ने लता और अखिलेश को अस्पताल पहुँचाया पर लता की मौत हो गयी जबकि अखिलेश बुरी स्तिथि में है