14 बच्चों और 49 नाती-पोतों वाले मुख़्तार ने फिर किया निकाह, तुम भरते रहो टैक्स

अब भले ही आप इसे कुछ भी कहे, पर अब खुलकर बात हर विषय पर होनी चाहिए, क्यूंकि देश में जनसँख्या अब एक गंभीर समस्या बन चुकी है, और ये कदाचित आतंकवाद से भी बड़ी समस्या है, पाकिस्तान और चीन से भी बड़ी समस्या है

भारत में एक समुदाय अपनी जनसँख्या को दशको से तेजी से बढ़ा रहा है, सेकुलरिज्म के चलते इसपर लोग खुलकर बात नहीं करते, पर हर 10 साल में जनसँख्या की गिनती होती है और कई दशको से एक चीज हर बार सामने आती है की मुस्लिम समुदाय सबसे तेजी से संख्या को बढ़ा रहा है

मुस्लिम समुदाय के लोग ज्यादा बच्चे कर रहे है, और कई कई बच्चे होने के बाद भी और बच्चे करते है, जभी भी देश में जनसँख्या नियंत्रण की बात होती है तो देश के सेक्युलर और मुस्लिम नेता इसे मुस्लिम विरोधी मुद्दा बता देते है, जबकि जनसँख्या नियंत्रण कोई धर्म के आधार पर करने की बात नहीं होती, सबके लिए हम 2 हमारे 2 के नियम की बात होती है

अब इसी जनसँख्या विस्फोट की चर्चा के बाद एक नयी खबर राजस्थान से सामने आ रही है जहाँ पर 66 साल के मुख़्तार ने फिर निकाह कर लिया है, मामला राजस्थान के नागोरे जिले का है जहाँ पर मजहबी जनसँख्या अब काफी तेजी से बढ़ रही है

मेड़ता सिटी में 66 साल के मुख़्तार ने 55 साल की आमना से निकाह किया है, इस मुख़्तार के पहले से 14 बच्चे है, इतना ही नहीं इसके तो 49 पोते नाती है, मुख़्तार की उम्र 66 साल है और इसकी पहली पत्नी की मृत्यु हो चुकी है, उस पत्नी से मुख़्तार ने 14 बच्चे किये थे

मुख़्तार का कहना है की वो अपनी पहली पत्नी के मरने के बाद काफी दुःख में था, और इसी दुःख से निकलने के लिए उसने 55 साल की आमना से फिर निकाह किया है, इस शादी को लेकर सोशल मीडिया पर अब तरह तरह की चर्चा है

राजस्थान के कांग्रेस MLA ने कहा – अरे हटाओ अब गहलोत को, कौन उसे वोट देगा, उसका अब प्रभाव नहीं रहा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने JNU में जाकर देश के टुकड़े टुकड़े होने के नारे लगाने वाले गद्दारों का समर्थन किया था, अब कांग्रेस 23 मई के लोकसभा चुनाव नतीजे के बाद टुकड़े टुकड़े हो जाने की स्तिथि में पहुँच गयी है

कांग्रेस का हर राज्य में ये ही हाल है, पंजाब में अमरिंदर सिंह और सिद्धू के बीच 36 का आंकड़ा हो चूका है, कर्णाटक में हाल बुरा है, मध्य प्रदेश में कमलनाथ से विधायक नाराज है, और राजस्थान में तो अब कांग्रेस के विधायक खुलकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ मोर्चा खोल रहे है

आज कांग्रेस विधायक पृथ्वीराज मीणा ने खुलर अशोक गहलोत का विरोध किया और मांग करी की तुरंत अशोक गहलोत को मुख्यमंत्री के पद से हटाया जाये, उन्होंने कांग्रेस का बंटाधार कर दिया

पृथ्वीराज मीना ने कहा की राजस्थान में कोई भी अशोक गहलोत के रहते कांग्रेस को वोट नहीं देगा, तुरंत अशोक गहलोत को हटाकर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाया जाये

पृथ्वीराज मीणा ने कहा की – राजस्थान में इस बार विधानसभा चुनावों में जीत सचिन पायलट ने दिलाई थी, लोग युवा मुख्यमंत्री चाहते है, अशोक गहलोत का अब कोई प्रभाव नहीं रहा, अशोक गहलोत के चलते जाट नाराज है, गुर्जर नाराज है, कौन वोट देगा कांग्रेस को, जल्द से जल्द अशोक गहलोत को हटाया जाए

देखिये किस तरह कांग्रेस विधायक ने मुख्यमंत्री का विरोध किया

आपकी जानकारी के लिए बता दें की इन दिनों अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच 36 का आंकड़ा बन चूका है, और सचिन पायलट के करीबी विधायक अब खुलकर अशोक गहलोत के खिलाफ मोर्चा खोल रहे है

लोकसभा चुनावों में 25 में से 25 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की है, जबकि 6 महीने पहले ही राज्य में कांग्रेस की सरकार बनी थी, स्वयं अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत इस बार जोधपुर से लोकसभा का चुनाव बुरी तरह हारे है, और उसका ठीकरा अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर फोड़ा था